नारी शक्ति वंदन अधिनियम विधायक संसद में

नारी शक्ति वंदन अधिनियम विधायक संसद में

Share with
Views : 86
उत्तर प्रदेश बलरामपुर  गणेश चतुर्थी के अवसर पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की पौत्री अंजली मिश्रा ने बताया कि पुराने संसद से नए संसद की ओर सभी सांसदों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कूँच किया, वहीँ ऐतिहासिक विधेयक "नारी शक्ति वंदन अधिनियम" को पारित करने के उद्देश्य से संसद के समक्ष प्रस्तुत किया। 
              पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की पौत्री अंजली मिश्रा ने महिला आरक्षण बिल का समर्थन करते हुए अपने ग्राम प्रवास के दौरान महिलाओं से बात चीत करते हुए यह बातें कहीं उन्होंने कहा कि देश  के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में लाया गया यह बिल भारतीय संस्कृति में उल्लिखित "यत्र नार्यस्तु पूज्यन्ते, रमन्ते तत्र देवता" को चरितार्थ करता है। 27 सालों के लटका यह बिल अपने मूल रूप में आने को तैय्यार है। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के लगातार प्रयास करने के बावजूद विपक्ष के षड्यंत्र के कारण यह बिल आज तक संसद में पास नहीं हो पाया ना ही कानून नहीं बन पाया । मगर आज वाजपेयी जी का यह सपना साकार होता दिख रहा है। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी की सराहना करते हुए इस फैसले का स्वागत किया है। 
बुधवार को इस विधेयक पर संसद में बहस की जाएगी।
सम्वाददाता संतोष कुमार दुबे
error: कॉपी नहीं होगा भाई खबर लिखना सिख ले